चेक बाउंस: कॉमेडियन राजपाल यादव को कोर्ट ने दी 6 महीने जेल की सजा 

नई दिल्ली: बॉलीवुड के कॉमेडी एक्टर  राजपाल यादव को 5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के इस मामले में  दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने 6 महीने की सजा सुनाई है. वही इस मामले में सजा सुनाने के बाद एक्टर को जमानत भी मिल चुकी है. बता दे यह मामला साल 2010 का है. इसमें राजपाल यादव पर 5 करोड़ रुपये का लोन न चुकाने का आरोप था. राजपाल यादव पर हर केस के लिए उन पर 1.60 करोड़ का जुर्माना लगाया गया है. 

 

गौरतलब है कि, एक्टर ने 'अता पता लापता' नामक एक फिल्म बनाई थी. इस फिल्म के लिए उन्होंने दिल्ली स्थित कंपनी मुरली प्रॉजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड से 5 करोड़ रुपये उधार लिए थे. 2 नवंबर 2012 को राजपाल की फिल्म भी रिलीज हो गई. लेकिन फील रिलीज होने के बाद भी उन्होंने उधार लिए पैसे नहीं चुकाए। इस मामले में दिल्ली के लक्ष्मी नगर स्थित कंपनी मुरली प्रॉजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने राजपाल यादव, उनकी पत्नी और उनकी कंपनी के खिलाफ चेक बाउंस से जुड़े सात अलग-अलग केस दर्ज कराए थे. इसके बाद कोर्ट ने उनको समन भेजा था.

इसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश होने के लिए कई समन भी भेजे गए लेकिन वह एक बार भी कोर्ट नहीं पहुंचे. इसके अलावा उनके वकील ने भी कोर्ट में गलत हलफनामा पेश किया था.जिसके बाद कोर्ट इस वाक्य से बेहद नाराज हुई. इसके बाद साल 2013 में दिल्ली हाई कोर्ट ने राजपाल को 10 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. गौरतलब है की उस वक्त एक्टर को चार दिनों तक जेल में रहना पड़ा था.

इसके अलावा बीते शुक्रवार को कड़कड़डूमा कोर्ट ने राजपाल यादव, उनकी पत्नी और कंपनी को इस मामले में दोषी ठहराया था और आज कोर्ट ने राजपाल को 6 महीने जेल की सजा सुनाते उनकी पत्नी राधा पर भी 10 लाख रुपये प्रति केस जुर्माना लगाया है. राजपाल यादव को दोषी करार देते हुए दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने उन्हें 6 महीने की सजा सुनाई है. हालांकि बाद में कुछ ही देर बाद राजपाल यादव को कोर्ट से बेल भी मिल गई.