पीएम मोदी ने नमो ऐप के जरिये भाजपा सांसदों-विधायकों से की सीधी बात, दिया विकास मंत्र'

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'नमो ऐप' के जरिये सभी बीजेपी सांसदों और विधायकों से 'सीधी बात' की. साथ ही पीएम मोदी ने यहां  विधायकों के सवालों के जवाब भी दिए और इस दौरान पीएम ने उन्हें 'विकास का मंत्र' दिया. पीएम मोदी ने कहा कि अगर सांसद के अपने इलाके के 3 लाख लोग ट्विटर पर उन्हें फॉलो करने लगे तो मैं इसी तकनीक के माध्यम से सीधे उनसे बातचीत करने को तैयार हूं. उन्होंने कहा कि समय देने में देर हो सकती है पर मुझे स्थानीय लोगों से सीधे बात करने में आनंद आएगा.


बच्चों की पढ़ाई, बुजुर्गों की दवाई और युवाओं ध्यान देने का दिया मंत्र..........
आपको बता दे पीएम ने सांसदों और विधायकों से बच्चों की पढ़ाई, बुजुर्गों की दवाई और युवाओं की कमाई पर फोकस करने का मंत्र दिया है. उन्होंने कहा कि किसानों पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है, ताकि वो और बेहतर जीवन जी सके.  पीएम ने कहा कि इस समय देश के गरीबों को अर्थव्यवस्था से जोड़ने की जरूरत है. गरीब आदमी बैंक से लोन लेने के बाद कभी नहीं भागता है. 

विकास कर लिए पीएम ने अन्ना हजारे से सीख लेने की दी सलाह.....
पीएम मोदी ने गांव के विकास के लिए अन्ना हजारे के गांव से सीख लेने को भी कहा.  उन्होंने नेताओं से कम से कम एक गांव में बदलाव लाने के लिए खुद प्रयास करने को कहा, उन्होंने गांव की शक्ति को जगाने और विकास से उसे जोड़ने की बात कही है. पीएम ने बताया कि वह अपने संसदीय क्षेत्र में इस तरह के कार्यों को बड़ी तल्लीनता से देख रहे हैं. साथ जी उन्होंने सांसदों और विधायकों को साफ-सफाई पर भी विशेष ध्यान देने को कहा है.


पीएम ने सीतापुर के विधायक से बातकर बचपन की यादों को किया याद...........
विधायकों से 'सीधी बात' में पीएम मोदी ने सीतापुर के विधायक सुरेश राही के सवालों का दिया जवाब. पीएम मोदी ने अपने बचपन का जिक्र करते हुए कहा कि जब मैं छोटा था तो सीतापुर का नाम बहुत सुना था, वहां मोतियाबिंद का ऑपरेशन काफी अच्छे से होता है. लोग गुजरात से यूपी के सीतापुर जाते थे. सवाल के जवाब में मोदी ने विधायक राही से कहा कि फंड का लिखित ब्योरा सार्वजनिक करें, जिससे लोगों को पूरी जानकारी मिले और भरोसा बढ़े.

पीएम मोदी ने कहा कि हमें गांव के हर घर में एलईडी बल्ब, किसान को सोलर पंप लगवाने के लिए प्रयास करना चाहिए, जिससे उनका पैसा बचे. इसके अलावा उन्होंने गांव में सीधे यूरिया खाद पहुंचाने की बात कही, जिससे किसानों का आनेजाने का पैसा बचे. पीएम ने कहा कि किसानों को बीमा कराने के लिए भी प्रेरित करें. गौरतलब है कि ये पहली बार नही था जब पीएम मोदी नमो ऐप के जरिये बात की है. पिछले कुछ समय से वो इसके जरिये लगातार अपने सांसदों से संवाद कर रहे हैं.