टोल फ्री रहेगा डीएनडी, सुप्रीम कोर्ट ने 6 हफ्तों के लिए टाली सुनवाई

नई दिल्ली. मंगलवार सुप्रीम कोर्ट ने लोगो को टोल से राहत दी है, बता दे दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाला दिल्ली नोएडा डायरेक्ट (डीएनडी) फ्लाइवे फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के आदेश से टोल फ्री रहेगा. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने 6 हफ्तों के लिए सुनवाई टाल दी है. सुप्रीम कोर्ट में आज मामले की सुनवाई होनी थी, लेकिन संबंधित वकील के ना रहने के कारण कोर्ट  कि सुनवाई नहीं हो सकी. खबरों की माने तो इलाहाबाद हाई कोर्ट ने टोल टैक्स को रद्द कर दिया था, जिसके बाद नोएडा टोल ब्रिज कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट में फैसले को चुनौती दी थी.

आपको बता दे सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था. साथ ही टोल टैक्स को लेकर कोर्ट ने सवाल भी पूछे, सुप्रीम कोर्ट ने सीएजी से पूछा था कि फ्लाइवे बनाने में कितना खर्च आया और कंपनी अब तक कितना टोल टैक्स वसूल चुकी है. कोर्ट ने सीएजी को फटकार लगते हुए 8 हफ्तों में अपनी रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया था. बता दे पिछले दिनों कोर्ट ने सीएजी रिपोर्ट टोल कंपनी समेत सभी पक्षकारों को देने का निर्देश दिया था. कोर्ट ने कहा था कि हमें कोई कारण नहीं लगता कि यह रिपोर्ट सीलबंद ही रहे. टोल कंपनी की ओर से मुकुल रोहतगी ने कहा था कि कंपनी को रोजाना 50 लाख रुपए का नुकसान हो रहा है इसलिए इस मामले की जल्द सुनवाई हो. सीएजी ने सीलबंद लिफाफे में रिपोर्ट सौंपी थी. 

दिल्ली नोएडा डायरेक्ट डीएनडी को लेकर इससे पहले कंपनी ने कोर्ट को बताया था कि उन्होंने 1135 करोड़ रुपए खर्च किए हैं जबकि उनकी कमाई अभी तक सिर्फ 1103 करोड़ की हुई है. इसपर कोर्ट ने कहा था कि आपके सिर्फ 32 करोड़ रुपए बकाया निकलते हैं. साथ ही कोर्ट ने इस मामले में नोएडा अथॉरिटी से पूछा था कि आप किसके साथ हैं, कंपनी के साथ या हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर करनेवाले के साथ. तब नोएडा अथॉरिटी की तरफ से बताया गया कि अभी उनका कोई अधिकारी कोर्ट रूम में मौजूद नहीं है. इसपर कोर्ट ने फटकार लगाते हुए कहा, ”क्या आपके अधिकारी मामले को लेकर गंभीर नहीं हैं.” इसके बाद कोर्ट ने 6 हफ्तों के लिए सुनवाई टाल दी. फिलहाल अभी 6 हफ्ते तक फ्री रहेगा दिल्ली नोएडा डायरेक्ट डीएनडी