IPL 2018:जडेजा को दे सकते हैं कप्तान धोनी एक बड़ी जिम्मेदारी

रविन्द्रसिन्ह जडेजा का जन्म 6 दिसम्बर 1988 नवागम-खेड़, सौराष्ट्र में हुआ था. ये एक भारतीय क्रिकेटर हैं. वे प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सौराष्ट्र का और भारतीय प्रीमियर लीग में गुजरात लॉयन्स का प्रतिनिधित्व करते हैं वे 2008 में मलेशिया में विश्व कप की विजयी भारतीय U-19 क्रिकेट टीम का भी हिस्सा थे. जडेजा एक बाएं हाथ से खेलनेवाले मध्य क्रम के बल्लेबाज हैं और धीमी गति से बाएं हाथ के प्राचीन शैली के गेंदबाज हैं.विजय हजारे ट्रॉफी में टीम इंडिया के ऑलराउंडर स्टार  रविंद्र जडेजा ने काफी अच्छा खेल कर  चर्चा में आ गए हैं. इस खेल में झारखंड के खिलाफ जडेजा ने खेलते हुए 116 गेंदों में 113 रनों की नाबाद पारी खेली जिसमें 7 चौके और 4 छक्के शामिल है.लिस्ट ए क्रिकेट में रविन्द्रसिन्ह जडेजा का दूसरा शतक भी है.सौराष्ट्र टीम ने 329 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए जडेजा ने खेल के दम पर झारखंड को 4 विकेट से हरा दिया.

आप को बता दे, कुछ समय से जडेजा वनडे टीम से बाहर चल रहे थे. हल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में जडेजा ने खेल का पारी खेलकर और अपनी दावेदारी मजबूत बनाकर इस टीम में वापस जगह बना लिया है. इस शानदार खेल के बाद जडेजा ने कहा की "अपनी गेंदबाजी के साथ-साथ बल्लेबाजी में भी टीम के लिए योगदान देना चाहते हैं".मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक इंटरव्यू में जडेजा ने कहा, 'धोनी भाई ने मुझे उपर बल्लेबाजी करने की सलाह दी है और शायद आईपीएल में भी टीम के लिए मैं चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता हूं.'जानकारी के मुताबिक, आईपीएल सीजन-11 में चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर जेडजा खेलते हुए नज़र आएंगे. सीएसके की टीम ने  जडेजा को दो साल बाद आईपीएल में वापसी के लिया रिटेन किया है.जडेजा ने कहा, 'मुझमें एक संपूर्ण बल्लेबाज का गुण का है और मैं अब एक पार्ट टाइम बल्लेबाज नहीं बल्कि टीम में नियमित बल्लेबाज के तौर पर खुद को ढालने की कोशिश करुंगा. अब मैं टीम के लिए बड़ी पारी खेलना चाहता हूं. मैं नहीं चाहता हूं कि आखिर में आकर मैं 10 या 20 रनों की पारी खेलूं. टीम के लिए मैं एक मुख्य बल्लेबाज की भूमिक निभाना चाहता हूं जैसा कि मैंने झारखंड के खिलाफ किया है.'जडेजा भारतीय टीम के बेहतरीन ऑलराउंडर में से एक हैं.

जडेजा ना सिर्फ अपनी गेंदबाजी से बल्कि बल्लेबाजी से भी टीम के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं ऐसे में आईपीएल में जडेजा सीएसके लिए एक अहम किरदार में नजर आ सकते हैं.जड़ेजा टीम इंडिया के लिए 35 टेस्ट, 136 वनडे और 40 टी-20 मैच खेल चुके हैं. बल्लेबाजी की बात करे तो जडेजा ने टेस्ट में 1176 और वनडे में 1914 रन बनाए हैं जबकि टी-20 में 116 रन जोड़े हैं.जडेजा को 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के उदघाटन सत्र के लिए राजस्थान रॉयल्स का एक हिस्सा चुना गया. उनके आईपीएल मैचों में शानदार प्रदर्शन के कारण टीम के कप्तान और कोच शेन वार्न ने उनकी प्रशंसा की. उनकी मौजूदगी का अहसास आईपीएल अभियान के दौरान महसूस किया गया और 2008 के फाइनल में उन्होंने अपनी टीम को जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिसमें 1 जून 2008 को मुंबई में खेले गए आईपीएल फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को हराया गया.उन्होंने आईपीएल सीजन में 14 मैचों में 135 रन बनाया था.