झारखण्डः दुमका जिले में हुआ सड़क हादसा, 8 लोगों की मौत और 2 लोगों के घायल

आज के आधुनिक युग में सड़क दुर्घटना एक आम सी बात हो गयी है वास्तव में वाहनों की बढ़ती संख्या और सड़क सुरक्षा आज भारत के लिए एक बड़ी समस्या है सड़क पर होने वाली ऐसी दुर्घटनाओं का मुख्य कारण लोगों द्वारा सड़क यातायात नियमों की अनदेखी करना है। तेज़ गति में गाडी चलाना , नशे में ड्राइविंग और गलत दिशा में गाड़ी चलाना आदि दुर्घटनाओं की मुख्य वजय है। सबसे ज्यादा हादसे वाहन चालकों की लापरवाही के चलते होते हैं इसमें सबसे अधिक नशीले पदार्थों का सेवन जा अधिक माल लादना प्रमुख हैं।ऐसे में ये एक घटना सामने आयी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, ये हादसा झारखण्ड के दुमका जिले से सामने आयी है. एक एमयूवी गाड़ी सोमवार को रेलिंग से टकरा कर नदी में गिर गयी। इस हादसे में 8 लोगों की मौत और 2 लोगों के घायल होने की खबर आयी है। एक अधिकारी का कहना है शुरुआती जांच में ऐसा मालूम हो रहा है कि चालक ने वाहन पर संतुलन खो दिया, उसके कारण गाड़ी रेलिंग से जाकर टकरा गई और नदी में गिर गई. अधिकारी ने बताया कि गाड़ी से कुछ अखबारों के बंडल दुमका ले जाया जा रहा था कि तभी रास्ते में यह घटना हो गया। पुलिस ने बताया की, सभी शवों को नदी से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।  इलाज के लिए घायलों को सदर अस्पताल बेजा गया है।

जानकारी के मुताबिक, इस घटना में र्द्धमान निवासी काजू शेख, दुमका के शिवनाथ देहरी, सुंदर लाल, बांका बिहार के चालक गोविंद, पूर्णिया बिहार के शिव कुमार, दुमका के नवीन कुमार सिंह की मौत हो गयी है।मौत की खबर के बाद प्रदेश के सीएम रघुवर दास ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर शोक जाहिर किया है.रघुवर दास ने अपने ट्विटर पर लिखा, 'दुमका में हुए जीप हादसे से मन द्रवित है. मृतक के परिजनों को मेरी संवेदनाएं। सूचना मिलते ही अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत-बचाव का कार्य शुरू किया. घुवर दास ने अपने ट्विटर पर लिखा है की घायलों का उचित इलाज किया जायेगा। साथ में उन्होंने कहा की 'आप सबसे से मेरी अपील है कि अपने वाहन की रफ्तार पर काबू रखें और ट्रैफिक नियमों का पालन करें'।