मस्कट में पीएम मोदी ने किया शिव दर्शन, सुल्तान के महल के पास बना है शिव मंदिर

नई दिल्ली: ओमान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज दूसरा दिन है साथ ही उनका यहां आज अंतिम दौरा है, प्रधानमंत्री मोदी ने आज यहां पे शिव मंदिर के दर्शन भी किए, यह सुल्तान के महल के पास बना है , बता दे ओमान में सोमवार को अपने कार्यक्रम की शुरुआत पीएम मोदी ने बिज़नेस मीटिंग के साथ की. साथ ही उन्होंने इस दौरान सुल्तान कबूस स्पोर्ट कॉम्प्लेक्स में भारतीय समुदाय के करीब 34 हजार लोगों को संबोधित किया. इस दौरान लोगो ने भारत माता की जय और मोदी-मोदी नारे लगाए गए. यहां उन्होंने भाजपा की केंद्र सरकार की तारीफ के साथ ही कांग्रेस शासित पुरानी केंद्र सरकार को तंज भी कसा है. इस दौरान ओमान में  प्रधानमंत्री मोदी ने रह रहे भारतीयों की तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि, ओमान में रहने वाले आठ लाख भारतीय सद्भावना दूत हैं जिन्होंने देश के विकास में योगदान दिया है.

आपको बता दे प्रधानमंत्री की चार देशों की यात्रा का यह आखिरी पड़ाव है, मोदी ओमान की दो दिवसीय यात्रा पर हैं. खबरों की माने तो पीएम मोदी सोमवार को ओमान के सुल्तान के अलावा डिप्टी प्राइम मिनिस्टर ऑफ काउंसिल सैयद फयद बिन महमूद अल सैयद के साथ मुलाकात कर सकते हैं. साथ ही यहां पर  रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ओमान के सुल्तान से कई विषयों पर चर्चा की और इस दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा, स्वास्थ्य और पर्यटन के क्षेत्र में सहयोग सहित आठ समझौतों पर हस्ताक्षर हुए. उन्होंने व्यापार और निवेश, ऊर्जा ,रक्षा, सुरक्षा ,खाद्य सुरक्षा तथा क्षेत्रीय मुद्दों पर बातचीत हुई.

बता दे मस्कट में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अपने सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि, सरकार 21वीं सदी की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए देश में अगली पीढ़ी की बुनियादी विकास कर रही है. लोगों ने बदलाव महसूस करना शुरू कर दिया है. नए भारत में कोई घोटाला नहीं है और फैसलों में समय नहीं लगता, चुनौतियां स्वीकार की जाती हैं और लक्ष्य हासिल किए जाते हैं सरकार के 4 साल हुए, लेकिन कोई नहीं कहता मोदी कितना ले गया. भारत में अब बदलाव की बयार चल रही है. सरकार की नीतियां लोगों तक पहुंच रही हैं. साथ ही वहां उपस्थित सभी लोगों का पीएम मोदी ने गुजराती समेत कई भारतीय भाषाओं में अभिवादन किया. इस बिच PM मोदी ने कहा कि अगर वे भारतीय बोलियों में नमस्ते करने लगे, तो घंटों निकल जाएंगे, ये विविधता कहीं और नहीं मिलेगी. यहां पे मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके विरोधी ये पूछते हैं कि कितना आया. पहले पूछा जाता था कि कितना गया, अब पूछा जाता है कि मोदी जी कितना आया.

उन्होंने आगे कहा की आज दिल्ली में एक ऐसी सरकार को काम करने का अवसर मिला है जो गरीबों को सिर्फ 90 पैसे प्रतिदिन और 1 रुपया महीने के प्रीमियम पर जीवन और सुरक्षा बीमा दिया जा रहा है. सिर्फ 90 पैसे, मैं चाय वाला हूं मुझे मालूम है कि 90 पैसे में चाय भी नहीं आती है. पीएम ने बताया कि आज देश में सड़क बनने, रेल लाइन बिछने, गैस कनेक्शन देने की रफ्तार, एयरपोर्ट बनने की रफ्तार, बिजली मिलने की रफ्तार पहले की तुलना में बढ़ गई है. पहले एविएशन पॉलिसी नहीं थी, जिसे मोदी सरकार ने बनाया. आज देश में साढ़े चार सौ हवाई जहाज कार्यरत हैं. 70 साल की यात्रा में सिर्फ 450 हवाई जहाज और एक साल में नौ सौ हवाई जहाजों का ऑर्डर दिया गया है. चार देशों की यात्रा पर पीएम मोदी ने जॉर्डन, फिलीस्तीन, यूएई और अब ओमान का दौरा किया.

आपको बता दे ओमान और भारत के बीच संबंध सालो पुराना है. बता दे पांच हजार साल पहले भी गुजरात से लकड़ी के जहाज ओमान में आते थे. हजारों वर्षों में व्यवस्थाएं बदल गईं. भारत में गुलामी का कालखंड आया. लेकिन दोनों देशों के बीच कारोबारी संबंध यथावत बने रहे. ओमान में रह रहे भारतीयों को भारत के राष्ट्रदूत हैं. ओमान के विकास में भारत के राष्ट्रदूत यानी भारतवंशियों की भागीदारी रही है. उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से एक राजदूत होता है, लेकिन देश की तरफ से लाखों राष्ट्रदूत यहां बैठे हैं.न हम ऐसे भारत के निर्माण की ओर बढ़ रहे है, जहां गरीब से गरीब व्यक्ति भी आगे बढ़ने का सपना देख सके और उन्हें साकार कर सके. उन्होंने कहा भारत एक ऐसा देश है जो एक बार कुछ ठान ले उसे करके ही छोड़ता है. 70 साल की यात्रा में 450 हवाई जहाज आए और पिछले एक साल में 900 जहाज खरीदने के सौदे हुए हैं.  पीएम मोदी ने आगे कहा हवाई चप्पल पहने वाला भी हवाई सफर करे, यह हमारी सरकार का सपना है.